*समूह की महिलाएं गौठान से जुड़कर हो रही हैं आर्थिक रूप से सशक्त*

0
63

मुर्गीपालन से प्रति महीने कमा रही हैं 15 हजार रूपए की अतिरिक्त आमदनी

मुंगेली // जिले के विकासखण्ड मुंगेली के ग्राम पण्डोतरा की वंदे मातरम स्व सहायता समूह की महिलाएं गौठान से जुड़कर आर्थिक रूप से सशक्त हो रही हैं। गौठान में मुर्गीपालन से प्रति महीने 15 हजार रूपए की अतिरिक्त आमदनी प्राप्त कर रही हैं। समूह की महिलाओं ने बताया कि पशुधन विकास विभाग के सहयोग से उन्हें 03 माह पूर्व मुर्गीपालन हेतु उन्नत नस्ल की मुर्गी प्राप्त हुआ था, जिससे अब उन्हें प्रतिदिन 50 से 60 नग अण्डे की प्राप्ति होती है। इन अण्डों को आंगनबाड़ी केन्द्रों के साथ लोगों द्वारा आसानी से खरीद लिया जाता है। मुर्गीपालन हेतु उन्हें पशुधन विकास विभाग द्वारा प्रशिक्षण भी प्राप्त

हुआ है। इसके अलावा उन्हें जिला प्रशासन से चना-मुर्रा बनाने का मशीन भी प्राप्त हुआ है। जिसका लाभ उन्हें अब अतिरिक्त आमदनी के रूप में मिलने लगा है। समूह की महिलाओं का कहना है कि पहले हम सिर्फ खेती-किसानी पर निर्भर थे, लेकिन शासन की महत्वाकांक्षी सुराजी गांव योजना के तहत निर्मित गौठान के माध्यम से आजीविकामूलक गतिविधियों से जुड़ने से उन्हें खेती-किसानी के अलावा अतिरिक्त आमदनी का जरिया मिल गया है। अतिरिक्त आमदनी का उपयोग हम अपने घरेलू कार्यों के साथ बच्चों को पढ़ाने में करते हैं। उन्होंने शासन व प्रशासन को अतिरिक्त आमदनी का जरिया मिलने पर धन्यवाद दिया है।

 

Previous article*गीता जयंती पर 3 दिसम्बर को रतनपुर में कार्यक्रम*
Next article*दृष्टि एवं श्रवण बाधितार्थ विद्यालय तिफरा में मनाया जाएगा अन्तर्राष्ट्रीय दिव्यांगजन दिवस*

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here