*समर्थन मूल्य पर धान खरीदी 01 नवंबर से कोचियों व बिचौलियों द्वारा चिल्हर रूप से धान खरीदी की अनियमितता को रोकने हेतु दल गठित करने के निर्देश*

0
69

 

तीजराम साहू ब्यूरो मुंगेली // खरीफ विपणन वर्ष 2022-23 में धान उपार्जन का कार्य दिनांक 01 नवंबर 2022 से प्रारंभ होगा। धान खरीदी अवधि के दौरान एवं उसके पहले अवांछित व्यक्तियों द्वारा अन्य राज्यों या जिलों से धान लाकर जिले के खरीदी केन्द्रों में खपाने के प्रयास किए जाने से धान खरीदी व्यवस्था पर विपरीत प्रभाव पड़ने की आशंका बनी रहती है। इसके अतिरिक्त गांव एवं अर्धशहरी इलाकों में कोचियों एवं बिचौलियों द्वारा चिल्हर रूप से धान की खरीदी कर समिति में पंजीकृत किसान के धान के रकबे में बेचने के प्रयास की संभावना बनी रहती है। इस देखते हुए कलेक्टर श्री राहुल देव ने धान खरीदी हेतु ग्राम एवं शहरी इलाकों में कोचियों व बिचौलियों द्वारा चिल्हर रूप से धान की खरीदी की अनियमितता को रोकने हेतु संबंधितों को दल गठित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने गठित दल को सतत् जांच की कार्यवाही कर अनियमितता या नियमानुसार खरीदी नहीं पाए जाने पर उनके विरूद्ध नियमानुसार प्रकरण दर्ज करने और मंडी अधिकारियों को धान खरीदी प्रारंभ होने के पूर्व गांव एवं अर्धशहरी इलाकों में कोचियों एवं बिचौलियों का चिन्हांकन करने के निर्देश दिए हैं। इसकी जानकारी संबंधित कार्यालय एवं पुलिस अधीक्षक को अवगत कराने के भी निर्देश दिए हैं।
उन्होंने कोचियों एवं बिचौलियों के द्वारा समिति में धान लाकर अन्य किसानों के पंजीयन में खपाने का प्रयास करने पर उनका वाहन एवं धान जब्त कर नियमानुसार कार्यवाही करने तथा संलिप्त कर्मचारी के विरूद्ध नियमानुसार अनुशासनात्मक कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने धान खरीदी में अवैध विक्रय, अवैध परिवहन, संचलन आदि संबंधी अनियमितता पाए जाने पर एवं प्रकरण दर्ज होने पर उसका मीडिया के माध्यम से पर्याप्त प्रचार करने के भी निर्देश दिए हैं।

 

Previous article*शासकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था लोरमी और पथरिया में मेहमान प्रवक्ता की होगी नियुक्ति*
Next article*अन्य पिछड़ा वर्ग और आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों का सर्वेक्षण नवीन पंजीयन हेतु मॉप-अप राउंड के तहत सर्वेक्षण के लिए 17 अक्टूबर तक खुला रहेगा पोर्टल*

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here