*जनचौपाल में आज 145 लोगों ने दिये आवेदन कलेक्टर श्री झा ने जनचौपाल में आये प्रकरणों के त्वरित निराकरण के दिए निर्देश*

0
24

कलेक्टर श्री झा की पहल से रिहाना पूरी करेगी सीपेट में पढ़ाई।

हाथी प्रभावित क्षेत्र पसान में सामुदायिक भवन बनाने में प्रशासन करेगा सहयोग।

कोरबा – कलेक्टर श्री संजीव झा ने कलेक्टोरेट सभा कक्ष में आयोजित जनचौपाल में जिले वासियों की समस्याओं और सुझावों को विस्तार सेे सुना। साथ ही उनके त्वरित निदान के लिए उपस्थित अधिकारियों को निर्देशित किये। आज आयोजित जन चौपाल में 145 लोगों ने कलेक्टर को अपनी समस्याओं-सुझावों से अवगत कराया। जनचौपाल में एमपी नगर कोरबा निवासी रिहाना खातून ने स्याहीमुड़ी स्थित सीपेट में तकनीकी पढ़ाई करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करने कलेक्टर के समक्ष आवेदन प्रस्तुत किये। उन्होने सीपेट में पढ़ाई करने की इच्छा जताई। रिहाना ने अपनी घर की कमजोर आर्थिक स्थिति का हवाला देते हुए पढ़ाई के लिए जरूरी फीस नही चुका पाने में असमर्थता जताई। कलेक्टर श्री झा ने रिहाना की बातों को संवेदनशीलता से सुनकर रिहाना की सीपेट में पढाई पूरी करवाने जिला प्रशासन की ओर से आवश्यक मदद करने के निर्देश लाईवलीहुड के सहायक परियोजना अधिकारी को दिये। जन चौपाल में ग्राम पंचायत पसान की सरपंच श्रीमती विनीता देवी तंवर ने पसान के हाथी प्रभावित क्षेत्र होने से ग्रामीणों को होने वाली परेशानियों से अवगत कराया। उन्होने हाथियों के लगातार आवागमन से ग्रामीणों को होने वाले जानमाल की नुकसान की समस्या को कलेक्टर को बताया। साथ ही पसान क्षेत्र के विभिन्न मोहल्लों लटियाटोला, केन्दहाडांड, बनखेता, गोलाबहरा, बोकरामुडी, बालमपुर एवं तराईनार में एक-एक सामुदायिक भवन स्वीकृत करने की मांग की। कलेक्टर श्री झा ने सरपंच के आवेदन पर संज्ञान लेते हुए जिला प्रशासन की ओर से सामुदायिक भवन बनाने में आवश्यक सहयोग करने के निर्देश मौके पर मौजूद अधिकारियों को दिये। जनचौपाल में जिला पंचायत के सी.ई.ओ. श्री नूतन कंवर सहित सभी विभागीय अधिकारीगण मौजूद रहे।

जनचौपाल में आज तहसील कोरबा अंतर्गत ग्राम भटगांव के कुछ ग्रामीणों ने वन विभाग के नर्सरी में काम करने के उपरांत परिश्रमिक भुगतान नही किये जाने की शिकायत की। 7-8 माह से पारिश्रमिक नही मिलने से श्रमिक परिवार को होने वाले आर्थिक परेशानियों से अवगत कराया। कलेक्टर श्री झा ने ग्रामीणों की बात सुनकर कोरबा वनमण्डलाधिकारी को श्रमिकों के पारिश्रमिक भुगतान के लिए उचित कार्यवाही करने के निर्देश दिये। इसी प्रकार धनुहार पारा कोरबा के श्रीचंद मतवानी ने मिनीमाता महतारी जतन योजना अंतर्गत राशि प्रदान नही करने के संबंध में शिकायत की। उन्होने अपनी पत्नि श्रीमती सुप्रिया मतवानी का श्रमिक पंजीयन होने के बावजूद योजना अंतर्गत लाभान्वित नही होने की जानकारी कलेक्टर को दी। कलेक्टर ने प्राप्त आवेदन की जांच कर उचित कार्यवाही करने के निर्देश सहायक श्रम आयुक्त को दिये। इसी प्रकार ग्राम सुकली जिला मुंगेली निवासी श्रीमती अन्नपूर्णा राजपूत ने स्वास्थ्य विभाग में संविदा पद पर कार्य कर चुके अपने दिवंगत पति के स्थान पर अनुकम्पा नियुक्ति के लिए आवेदन प्रस्तुत किया। उन्होने बताया कि उनके पति संविदा पद पर पीएचसी सरबुंदिया में 13 वर्षाे से कार्यरत थे। वह कोविड-19 जांच के लिए जिला चिकित्सालय कोरबा में स्थापित ट्रु नॉट लैब में एक वर्षो तक ड्यूटी की। इसी दौरान दो बार कोरोना पाजिटीव होने के पश्चात् बार-बार तबीयत खराब होने के कारण उनकी आकस्मिक मृत्यु अगस्त 2022 में हो गयी। श्रीमती अन्नपूर्णा ने पति के मृत्यु पश्चात् घर की खराब आर्थिक स्थिति कलेक्टर कोरबा को अवगत कराया। रोजगार के साधन के लिए उनके पति के स्थान पर अनुकंपा नियुक्ति दिलाने की मदद मांगी। कलेक्टर श्री झा ने आवेदन पर संज्ञान लेते हुए आवेदिका की उचित मदद करने के लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को मौके पर ही निर्देशित किया।

Previous article*राजस्व प्रकरण निराकरण के लिए गांववार लेगेंगे राजस्व शिविर,कलेक्टर श्री संजीव झा ने साप्ताहिक समीक्षा बैठक में दिए निर्देश*
Next article*अपर कलेक्टर श्री पाटले ने जनपद पंचायत करतला कार्यालय का किया आकस्मिक निरीक्षण*

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here